स्वामी आत्मानन्द अंग्रेजी माध्यम स्कूल योजना मुख्यमंत्री से 8 वी के छात्र क्षितिज ने फर्राटेदार अंग्रेजी में बात कर जताया आभार मुख्यमंत्री श्री बघेल ने क्षितिज की सराहना की और उनके उज्जवल भविष्य की शुभकामनाएं दी महासमुंद

BY: TRACKCG EDITOR
10-JUN-2021 ,THURSDAY (3 DAYS AGO)

स्वामी आत्मानन्द अंग्रेजी माध्यम स्कूल योजना मुख्यमंत्री से 8 वी के छात्र क्षितिज ने फर्राटेदार अंग्रेजी में बात कर जताया आभार मुख्यमंत्री श्री बघेल ने क्षितिज की सराहना की और उनके उज्जवल भविष्य की शुभकामनाएं दी महासमुंद


गौरव चंद्राकर महासमुंद जिला ब्यूरो 9993257295



महासमुंद /राज्य सरकार की महत्वाकांक्षी स्वामी आत्मानन्द अंग्रेजी माध्यम स्कूल योजना में के अच्छे परिणाम सामने आने लगे है। इसका सबसे अच्छा उदाहरण बुधवार को देखने और सुनने मिला। मौका था बुधवार को मुख्यमंत्री के द्वारा वर्चुअल कार्यक्रम में महासमुंद जिले के विकास कार्यों का लोकार्पण और भूमि-पूजन कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने हितग्राहियों से बात की तो उन्ही में स्वामी आत्मानन्द अंग्रेजी माध्यम स्कूल महासमुंद में पढ़ने वाले कक्षा 8 वी के छात्र क्षितिज पांडे ने फर्राटेदार अंग्रेजी में बात कर स्कूल खोलने के लिए मुख्यमंत्री का आभार जताया। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल सहित उपस्थित सभी मंत्री बच्चे की फर्राटेदार अंग्रेजी सुन बहुत खुश हुए।

वर्चुअल कार्यक्रम में शामिल हुए क्षितिज ने मुख्यमंत्री श्री बघेल को अंग्रेजी में अपना परिचय दिया। कहा वे कक्षा आठवीं के छात्र है। आगे बोला स्कूल में अति उत्कृष्ट इंफ्रास्ट्रक्चर और शिक्षक है। स्कूल में दाखिले से लेकर किताब सब कुछ सरकार की ओर से मुफ्त है। हमारा स्कूल उन सभी पेरेंट्स के लिए उत्तम है जो अपने बच्चों को अंग्रेजी माध्यम स्कूल में पढ़ना चाहते है। इसके लिए मुख्यमंत्री का धन्यवाद किया। 

मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा कि स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी स्कूल के माध्यम से अब राज्य में गरीब परिवारों के बच्चों को भी गुणवत्तापूर्ण शिक्षा मिल रही है। इन स्कूलों से पढ़ने वाले बच्चों में आत्मविश्वास जागेगा। जिससे उन्हें देश-दुनिया में भी रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे। मुख्यमंत्री ने क्षितिज की सराहना की और उनके उज्जवल भविष्य की शुभकामनाएं दी।

मालूम हो कि राज्य में इंग्लिश मीडियम स्कूलों का संचालन स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मीडियम स्कूल योजना के तहत किया जा रहा है। अपनी हिंदी भाषा के अलावा अंग्रेजी भाषा भी अनिवार्य हो गई है। अंग्रेजी भाषा आधुनिक दौर की माँग बन गई है। बिना अब इसके काम करना उतना आसान भी नही रहा । वह दिन दूर नही की छत्तीसगढ़ के हर जिले और विकासखंड क्षेत्र में इस तरह से बच्चे अंग्रेजी में बात करते नजर आएँगे और अपना अच्छा भविष्य बनायेंगे।


Create Account



Log In Your Account