एक ही दिन में 434 होम आईसोलेटेड मरीज हुए स्वस्थ, अब तक 17 हजार 993 लोग हुए डिस्चार्ज

BY: TRACKCG EDITOR
19-APR-2021 ,MONDAY (4 WEEKS AGO)

कुल ठीक हुए संक्रमितों में से 93 प्रतिशत मरीज होम आइसोलेशन में रह कर हुए स्वस्थ


Vijay Shrivastava Special Correspondence Chhattisgarh

एक ही दिन में 434 होम आईसोलेटेड मरीज हुए स्वस्थ, अब तक 17 हजार 993 लोग हुए डिस्चार्ज

कुल ठीक हुए संक्रमितों में से 93 प्रतिशत मरीज होम आइसोलेशन में रह कर हुए स्वस्थ

होम आइसोलेशन वाले मरीज दवाई और स्वास्थ्य सलाह का पालन करके हो रहे हैं ठीक

कोरबा/ट्रैक सीजी! कलेक्टर श्रीमती किरण कौशल के मार्गदर्शन में जिला प्रशासन सजगता और गंभीरता पूर्वक जिले में कोरोना संक्रमण को रोकने और कोरोना संक्रमितो के इलाज में लगा हुआ है। जिला प्रशासन द्वारा बिना लक्षण या कम लक्षण वाले कोरोना संक्रमितों को होम आइसोलेशन की भी सुविधा प्रदान की जा रही है। होम आईसोलेटेड मरीजों को लगातार निगरानी में रखकर उनका इलाज किया जा रहा है। 18 अप्रैल को एक ही दिन में 434 होम आईसोलेटेड मरीजों को स्वस्थ होने के उपरांत डिस्चार्ज किया गया। जिले में अब तक ठीक हुए कोरोना संक्रमित मरीजों में से 93 प्रतिशत मरीज होम आइसोलेशन में रहकर पूरी तरह ठीक हो चुके हैं। जिले में अब तक कुल 19 हजार 154 कोरोना मरीज पूरी तरह से ठीक होने के पश्चात डिस्चार्ज किए गए हैं जिसमें से होम आइसोलेशन में रह कर 17 हजार 993 मरीज पूरी तरह ठीक हुए हैं। कोविड अस्पतालों से एक हजार 161 मरीजों को पूरी तरह ठीक होने के बाद डिस्चार्ज किए गए हैं।

होम आइसोलेशन में रहने वाले कोरोना संक्रमितों को मेडिकल टीम द्वारा लगातार स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया करवाई जा रही हैं। होम आईसोलेट मरीजों के निगरानी के लिए जिला स्तरीय चौबीस घंटे चलने वाले कंट्रोल रूम की स्थापना भी की गई है। किसी भी प्रकार की स्वास्थ्य समस्या होने पर होम आईसोलेशन कंट्रोल रूम नंबर 07759-222720, 21, 22, 23, 24 में संपर्क कर उचित सलाह ले सकते हैं। 24 घंटे चलने वाले कंट्रोल रूम के जरिए होम आइसोलेटेड कोरोना संक्रमित मरीजों को किसी भी समय परेशानी होने पर तत्काल स्वास्थ्य सलाह भी दिया जा रहा है। जिसके कारण कोरोना संक्रमित मरीजों की ठीक होने की दर में बढ़ोतरी हो रही है। होम आईसोलेशन में रहने वाले मरीज डाॅक्टरी सलाह से नियमित दवाईयों का सेवन करके तथा होम आईसोलेशन दिशा-निर्देशों का पालन करके तेजी से ठीक हो रहे हैं। 

स्वास्थ्य विभाग द्वारा होम आइसोलेशन में रहने वाले कोरोना पीड़ित मरीजों को जरूरी दवाइयों की किट उपलब्ध कराई जा रही है। दवाईयों के किट में दवा कैसे लेनी है, इसकी जानकारी से युक्त पर्ची भी सलंग्न होती है। किट में सामान्य तौर से पांच दिन की दवाइयों का डोज रहता है। लेकिन विटामिन सी, जिंक टेबलेट और केल्सियम की गोली को आगे 10-15 दिन तक सेवन अच्छा माना गया है। बुखार आने पर मरीज को पैरासिटामाल की गोली लेने की सलाह दी जाती है। सर्दी होने पर सिट्रीजीन गोली लेने तथा यदि किसी को दस्त की समस्या हो तो होम आईसोलेशन कंट्रोल रूम में सम्पर्क कर चिकित्सक की सलाह लेने के निर्देश दिए जाते हैं। होम आईसोलेटेड मरीज को ओआरएस एवं इलेक्ट्रॉल युक्त जल का सेवन बार-बार किया जाना चाहिए। खाने-पीने में कोई कमी नहीं रखनी चाहिए। प्रोटीन युक्त भोजन ज्यादा उचित रहता है। इससे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता में बढ़ोत्तरी होती है। कोरोना संक्रमण के दौरान कुछ दिन शरीर में कमजोरी रह सकती है, जो कि धीरे-धीरे ठीक हो जाती है। होम आईसोलेटेड मरीजों को नियमित रूप से शरीर का तापमान और ऑक्सीजन लेवल सुबह-शाम लेने की सलाह दी जाती है।


Create Account



Log In Your Account